Electricity Subsidy Rule: अब बिजली सब्सिडी के लिए भरना होगा फॉर्म, एक अक्टूबर से सब्सिडी मांगने वालों को ही मिलेगा लाभ.

  • 30.39 लाख लोग 100 फीसदी बिजली सब्सिडी ले रहे हैं.
  • 16.59 लाख लोग बिल पर 50 फीसदी की सब्सिडी ले रहे हैं. Electricity Subsidy Rule

Electricity Subsidy Rule: दिल्ली सरकार बिजली की सब्सिडी अब मांगने वालों को ही देगी। उसके लिए अगस्त से बिल के साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के संदेश वाले पत्र के साथ भेजा जाने वाला सहमति पत्र भरना अनिवार्य होगा। Electricity Subsidy Rule

मुख्यमंत्री की ओर से उपभोक्ताओं के नाम वाले इस संदेश में उन्हें बीते सात साल में कितनी सब्सिडी सरकार की ओर से दी गई है उसकी जानकारी के साथ आगे सब्सिडी जारी रखने के लिए सहमति फॉर्म भरने की अपील की जाएगी। एक अक्तूबर से मांगने वाले को ही बिजली पर सब्सिडी मिलेगी। दरअसल, बिजली पर दी जाने वाली सब्सिडी को लेकर लगातार कुछ लोगों की ओर से की जा रही आलोचना के बाद यह फैसला किया गया है।

सात वर्ष में मिली छूट की जानकारी होगी : Electricity Subsidy Rule

अगस्त में बिजली के बिल के साथ आने वाले मुख्यमंत्री के पत्र में उनकी तस्वीर होगी। पत्र में उपभोक्ता को सात में मिली सब्सिडी की राशि के बारे में सूचना होगी। साथ ही बताया जाएगा कि अक्तूबर 2022 से ये सब्सिडी उन लोगों को ही मिलेगी जो उसकी मांग करेगा। यदि आप चाहते हैं कि बिजली बिलों में आपको सब्सिडी मिलती रहे तो आप दिए गए सहमति फॉर्म को भरकर नजदीकी बिजली बिल के काउंटर पर जमा कराएं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाला का यह पत्र दिल्ली के सभी घरेलू बिजली उपभोक्ताओं के यहां जाएगा।

वोटर आईडी नंबर देना होगा : Electricity Subsidy Rule

बिजली सब्सिडी पाने के लिए सरकार की ओर से आने वाला सहमति फॉर्म मुख्यमंत्री के नाम होगा। बिजली उपभोक्ता को इस फॉर्म पर अपनी सहमति जताते हुए उसमें दिए गए कॉलम में अपना वोटर आईडी कॉर्ड और मोबाइल नंबर भरकर उस पर अपना हस्ताक्षर करना होगा। उसे नजदीकी बिजली बिल जमा होने वाले काउंटर पर जमा कराना होगा। उसके बाद अक्तूबर के बिल से आगे भी सब्सिडी जारी रहेगी। Electricity Subsidy Rule

Leave a Reply