7th Pay Commission: मोदी सरकार 1 जुलाई से कर्मचारियों व पेंशनभोगियों के सैलरी एवं पेंशन दोनों की डीए में करेगी बढ़ोतरी.

7th Pay Commission: केंद्र की मोदी सरकार एक बार फिर देश भर के लाखों केंद्रीय कर्मचारियों की पेंशन भोगियों को बड़ी खुशखबरी देने जा रही है। सरकार जल्द ही महंगाई भत्ता (डीए) में बड़ा इजाफा करने जा रहे हैं. जिससे लंबे समय से चल रहे हैं कर्मचारियों को पेंशन की मांग पूरा हो जाएगी।

सरकारी कर्मचारियों को 1 जुलाई को अच्छी खबर मिल सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक AICPI Index में मार्च 2022 में उछाल आया था जिसके बाद महंगाई भत्ता (Dearness Allowance – DA) बढ़ने की उम्मीद बढ़ गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार सीधे 4 फीसदी डीए बढ़ा सकती है। अगर ऐसा होता है तो सरकारी कर्मचारियों का डीए बढ़कर 38 फीसदी हो जाएगा।

4 फीसदी बढ़ जाएगा डीए: 7th Pay Commission

1 जुलाई से कर्मचारियों के डीए में इजाफा होने वाला है। केंद्र सरकार के जिन कर्मचारियों को 34 फीसदी डीए मिलता था, उन्हें अब बढ़कर 38 फीसदी डीए मिलेगा। साल 2022 के पहले दो महीनों जनवरी और फरवरी के लिए AICPI इंडेक्स में गिरावट देखी गई। जनवरी में 125.1, फरवरी में 125 उसके बाद मार्च में 1 अंक बढ़कर 126 पर आ गया। अगले तीन महीने अप्रैल, मई और जून के ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) के आंकड़े अगर 126 अंक से ऊपर रहता है तो सरकार DA, 4 फीसदी तक बढ़ा सकती है।

38 फीसदी होने पर इतनी बढ़ेगी सैलरी: 7th Pay Commission

कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 56,900 रुपये है, उनको 38 प्रतिशत महंगाई भत्ता होने पर 21,622 रुपये DA मिलेगा। अभी 34 फीसदी की दर से 34 प्रतिशत डीए के हिसाब से 19,346 रुपये मिल रहा है। 4 फीसदी डीए बढ़ने से सैलरी में 2,276 रुपये बढ़ जाएंगे। यानी, सालाना करीब 27,312 रुपये बढ़ जाएंगे।

50 लाख कर्मचारियों को होगा फायदा: 7th Pay Commission

सरकार साल में दो बार डीए बढ़ाती है। इस साल की शुरुआत में सरकार डीए एक बार बढ़ा चुकी है। अभी डीए 34 फीसदी है। अगर इसमें 4 फीसदी की और बढ़ोतरी होती है तो ये 38 फीसदी हो जाएगा। इस फैसले से 50 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा।

Leave a Reply