Corona Red Alert: WHO की की चेतावनी! आ रही हैं कोरोना की नई लहर, फिर लग सकता हैं लॉकडाउन ?

Corona Red Alert: कोरोना वायरस के ज्यादा संक्रामक स्वरूप के उभरने, प्रतिरक्षा को भेदने और अस्पताल में भर्ती होने की बढ़ती दर को लेकर चिंताओं के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने आगाह किया कि कोविड-19 की नई लहरों के लिए तैयार रहना चाहिए. ऐसे साक्ष्य लगातार मिल रहे हैं कि ओमीक्रॉन के सब वैरिएंट- बीए.4 और बीए.5 टीका ले चुके लोगों को भी संक्रमित कर रहे हैं.

स्वामीनाथन ने गुरुवार को ट्वीट किया, ‘हमें कोविड-19 की नई लहरों के लिए तैयार रहना चाहिए. वायरस का प्रत्येक वैरिएंट और संक्रामक तथा प्रतिरक्षा को भेदने वाला होगा. ज्यादा लोगों के संक्रमित होने से बीमारों और अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या बढ़ेगी. सभी देशों के पास आंकड़ों के आधार पर उभरते हालात से निपटने की योजना होनी चाहिए.’

Corona Red Alert: दुनिया में एक बार फिर कोरोना वायरस पैर पसारने लगा है. कुछ महीनों पहले जो स्थिति कंट्रोल में लग रही थी, एक बार फिर मामले भी ज्यादा आ रहे हैं और मौत के आंकड़े भी इजाफा हो गया है. इन बदलते ट्रेंड को समझते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी जारी कर दी है. नई लहरों को लेकर सावधान कर दिया गया है.

WHO की चीफ सांइटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन ने कहा है कि हमे अब कोरोना की और नई लहरों के लिए तैयार रहना चाहिए. जो भी नए वैरिएंट सामने आ रहे हैं, सभी का रूप अलग है, वो ज्यादा तेजी से फैलने वाले दिख रहे हैं. जितने ज्यादा मामले बढ़ेंगे, अस्पताल में एडमिट होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ती जाएगी. इन बदलती स्थितियों के लिए हर देश को अपने पास एक एक्शन प्लान तैयार रखना होगा.

अब सौम्या स्वामीनाथन ने ये ट्वीट भी वर्ल्ड बैंक के एडवाइजर Philip Schellekens के उस ट्वीट पर किया है जहां पर उन्होंने जोर देकर कहा था कि दुनिया में एक बार फिर स्थिति तेजी से बदल गई हैं, मामले फिर बढ़ने लगे हैं. मौत का आंकड़ा भी जो पहले कम चल रहा था, फिर बढ़ गया है. Philip की इसी चिंता पर सौम्या ने पूरी दुनिया के लिए ये चेतावनी जारी की.

Philip Schellekens के मुताबिक इस समय अमीर देशों में अमेरिका, फ्रांस, इटली, जर्मनी और जापान में कोरोना मामले सर्वधिक सामने आ रहे हैं. वहीं अपर मिडल इनकम वाले देशों में ब्राजील सबसे आगे चल रहा है. अब यहां ये जानना जरूरी हो जाता है कि कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर WHO डायरेक्टर Tedros Adhanom Ghebreyesus भी अपनी चिंता व्यक्त कर चुके हैं. उन्होंने भी इस बात पर जोर दिया कि मौत का आंकड़ा बढ़ना सही संकेत नहीं है.

पिछले हफ्ते प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा था कि ओमिक्रॉन के सबवैरिएंट BA.4 और BA.5 की वजह से पूरी दुनिया में कोरोना के मामले फिर बढ़ रहे हैं. WHO प्रमुख ने इस बात पर भी चिंता जाहिर की कि अब कई देश कोरोना को लेकर लापरवाह हो गए हैं. टेस्टिंग कम कर दी गई है, जिस वजह से किसी भी वैरिएंट को लेकर पुख्ता जानकारी सामने नहीं आ रही है, उसके व्यवहार को लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं हो रहा है.

WHO प्रमुख ने साफ कर दिया है कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है और आने वाले वक्त और भी लहर देखने को मिल सकती हैं. इसके संकेत इस बात से भी मिल रहे हैं कि पिछले हफ्ते 5.7 मिलियन कोरोना मामले सामने आ गए जो पहले की तुलना में 6 प्रतिशत अधिक रहे. मौत के आंकड़े की बात करें तो पिछले हफ्ते इस वायरस की वजह से 9800 लोगों ने अपनी जान गंवाई.

यहां भी फ्रांस में पिछले हफ्ते 7,71,260 मामले सामने आए, अमेरिका में 7,22,924, इटली में 661,984 और जर्मनी में 561,136. भारत में भी कोरोना के मामले पिछले कई दिनों से लगातार बढ़ते दिख रहे हैं. अकेले पिछले हफ्ते ही देश में कोरोना की वजह से 229 लोगों की मौत हो गई, जो अपने आप में 15 फीसदी का इजाफा रहा.

Leave a Reply