Diesel Subsidy Yojana: सरकार का बड़ा ऐलान! अब 600 की जगह 750 रुपये प्रति एकड़ मिलेगा डीजल अनुदान.

(Diesel Subsidy Yojana): बिहार में कम बारिश के चलते किसानों की धान समेत खरीफ की फसल खराब हो रही है। ऐसे में नीतीश सरकार किसानों को सिंचाई के लिए डीजल अनुदान देने जा रही है। किसानों के आवेदनों की जांच जल्द कर डीजल अनुदान दिया जाएगा। इसके लिए सभी जिलों को राशि उपलब्ध करा दी गई है।

(Diesel Subsidy Yojana): बिहार के किसानों को नीतीश कुमार सरकार ने तोहफा दिया है। किसानों को धान समेत खरीफ की फसल की सिंचाई के लिए मिलने वाले डीजल अनुदान की राशि 600 रुपये प्रति एकड़ से बढ़ाकर 750 रुपये कर दी गई है। राज्य कैबिनेट ने इसकी मंजूरी दे दी है। सूबे के लाखों किसानों को इसका फायदा मिलेगा।

कैबिनेट के अपर मुख्य सचिव डॉ. एस सिद्धार्थ ने कहा कि डीजल की बढ़ी कीमत को देखते हुए प्रति लीटर अनुदान में राज्य सरकार ने 15 रुपये की बढ़ोतरी की है। पहले किसानों को ताकि किसानों को राहत मिले। मालूम हो कि अनियमित मानसून, सूखे और कम बारिश जैसी स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने किसानों को डीजल अनुदान देने का निर्णय लिया है। वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए इस मद में 29 करोड़ 95 लाख रुपये अग्रिम राशि के रूप में मंजूर किए गए हैं।

सरकार किसानों को अब तक एक लीटर डीजल पर 60 रुपये अनुदान दे रही थी, अब इस राशि को बढ़ाकर 75 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है। खरीफ फसलों के एक एकड़ की सिंचाई के लिए दस लीटर खपत के अनुमान के आधार पर किसान को प्रति एकड़ 750 रुपये दिये जाएंगे। अधिकतम आठ एकड़ तक की सिंचाई के लिए एक किसान को यह अनुदान मिलेगा।

ऑनलाइन प्राप्त आवेदन को अधिकतम दस दिनों के अंदर निष्पादित कर किसानों के बैंक खाते में अनुदान का भुगतान किया जाएगा। आवेदन के समय निबंधित पेट्रोल पंप विक्रेता से डीजल खरीद का कंप्यूटराइज्ड वाउचर किसानों द्वारा अपलोड किया जाएगा। किसान द्वारा खरीदे गये डीजल से वास्तविक रूप से सिंचाई हुई है या नहीं, इसकी स्थल जांच संबंधित पंचायत के कृषि समन्वयक करेंगे।

8 एकड़ तक की जमीन पर ले सकेंगे अनुदान: (Diesel Subsidy Yojana)

हर किसान अधिकतम 8 एकड़ की जमीन पर सिंचाई के लिए डीजल अनुदान ले सकेगा। पहले यह सीमा पांच एकड़ थी, मगर हाल ही में इसे बढ़ाकर 8 एकड़ किया गया है। कृषि मंत्री ने कहा कि इस मॉनसून सीजन सामान्य से कम बारिश होने के चलते कई जिलों में सूखे के हालात बने हुए हैं। खरीफ फसोलं को डीजल चलित पंपसेट से पटवन करने के लिए सरकार किसानों को सिंचाई के लिए डीजल अनुदान योजना के तहत सहायता दे रही है।

डीजल अनुदान लेने के लिए ऐसे करें आवेदन: (Diesel Subsidy Yojana)

जो किसान डीजल अनुदान योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, वे बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://dbtagriculture.bihar.gov.in/ पर जाएं। होम पेज पर डीजल अनुदान के विकल्प पर क्लिक करें। इसके बाद डीजल की रसीद, सिंचाई सत्यापन फॉर्म, नाम, बटाईदार, आधार नंबर, बैंक अकाउंट की जानकारी समेत अन्य जानकारी भरें और फिर सबमिट कर दें। आवेदन प्रक्रिया सुबह 9 से शाम 6 बजे तक चलेगी।

Leave a Reply