Free Electricity Scheme: अब लोगों को मिलेगा 300 यूनिट फ्री बिजली, राज्य सरकार ने कर दिया बड़ा ऐलान.

Free Electricity Scheme: आम आदमी पार्टी की तरफ से पंजाब विधानसभा चुनावों के दौरान जो वायदे व गारंटियां दी गई थीं वे पूरे किए जा रहे हैं। इनमें पहली गारंटी हर एक परिवार को बिना किसी भेदभाव के 300 यूनिट बिजली फ्री देने की थी, जो मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की तरफ से पूरी कर दी गई है। एक जुलाई से हर एक परिवार को 300 यूनिट हर महीने बिजली फ्री मिलनी शुरू हो जाएगी। ये बातें आप के सीनियर नेता व एडवाइजरी कमेटी के सदस्य अरुण सोनी, सीनियर आप नेता व एडवाइजरी कमेटी सदस्य डा. सुदर्शन सिंह तथा सीनियर आप नेता व एडवाइजरी कमेटी सदस्य रछपाल सिंह बाजवा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही।

Free Electricity Scheme: आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय कन्वीनर अरविंद केजरीवाल ने संगरूर लोकसभा उपचुनाव प्रचार के दौरान पंजाब में एक जुलाई से हर महीने 300 यूनिट फ्री बिजली देने का ऐलान किया है। इससे लोगों के मन में एक बार फिर सवाल खड़े हो गए हैं कि कौन इसका लाभ उठा सकता है और कौन नहीं। इसका कारण यह है कि अभी तक इस स्कीम के बारे में पंजाब सरकार ने अधिसूचना जारी नहीं की है। स्कीम की शर्तों के बारे में स्वयं पावरकाम के अधिकारी भी स्पष्ट तौर पर कुछ नहीं कह रहे हैं। सरकार की ओर से अभी तक उपलब्ध करवाई गई जानकारी के अनुसार विभिन्न वर्गों को इस स्कीम का लाभ इस तरह मिलेगा।

हर माह 300 यूनिट फ्री बिजली योजना आज से लागू हो सकती है। इससे जालंधरियों को 36 करोड़ का लाभ होगा। वर्तमान में 4 लाख 5 हजार के करीब घरेलू कनेक्शन है। इनमें 1.29 लाख के करीब उपभोक्ताओं की महीने की औसतन बिजली खपत ही 300 यूनिट है जिसमें वह लोग भी शामिल हैं जो 200 यूनिट हर महीने फ्री लेते हैं। हालांकि 30 जून को आधिकारिक लेटर पावरकॉम को नहीं मिला। यह जारी होने पर उन सभी सवालों का जवाब मिलेगा, जिसमें बिल पर जो टैक्स लगते हैं वो उपभोक्ता देगा या फिर सरकार? महीने की औसतन खपत 300 यूनिट से ऊपर होती है, वे सारा बिल देंगे या फिर ऊपर के ही यूनिटों के पैसे देने हों‌गे? फिलहाल नॉर्थ जोन के चीफ इंजीनियर देविंदर शर्मा ने कहा कि जब तक लिखित लेटर नहीं अा जाता, हम आधिकारिक तौर पर नहीं कह सकते है कि फ्री बिजली सेवा शुरू हो गई है।

 

वर्तमान बिजली टैरिफ: Free Electricity Scheme

स्लैब रेट:

  • 100 यूनिट 3.74
  • 100 से 300 5.84
  • 300 से ज्यादा 7.3
  • ये खर्चे फ्री यूनिटों पर भी लगेंगे

 

  • फिक्स चार्जेज : 60 रुपए प्रति किलोवाट।
  • मीटर का किराया : 13 रुपए।
  • जिस बॉक्स में मीटर लगा है, उसका किराया : 6 रुपए।
  • स्टेट जीएसटी : 18 फीसदी।
  • बिजली ड्यूटी : 15 फीसदी।
  • इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड : 5%

600 यूनिट से कम खपत पर ही लाभ: Free Electricity Scheme

1- स्कीम के मुताबिक अगर 2 किलो वाट तक लोड वाले किसी बिजली उपभोक्ता की दो महीने की बिजली की खपत 600 यूनिट से कम है तो उसका पूरा बिल माफ होगा। हालांकि दो महीने में 600 यूनिट से ज्यादा खपत करने पूरा बिल भरना होगा। जनरल और रिजर्व कैटेगरी के लिए यह नियम एकसमान ही हैं।

 

सवाल: पिता और पुत्र एक ही घर में रह रहे हैं, लेकिन अलग-अलग हैं, तो क्या दोनों को स्कीम का लाभ मिलेगा?

जवाब: ऐसे केसों में इस स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा और एप्लीकेशन रिजेक्ट हो जाएगी।

 

सवाल: क्या अलग से रसोई और बाथरूम होना जरूरी है?

जवाब: किसी घर के अलग दो पोर्शन हैं लेकिन वहां किसी एक पोर्शन में रसोई और बाथरूम अलग से नहीं हैं तो वहां दूसरा मीटर लगाकर इस स्कीम का लाभ नहीं लिया जा सकता।

सवाल: क्या पत्नी के नाम पर अलग मीटर लगवाकर इस स्कीम का लाभ लिया जा सकता है?

जवाब: नहीं, कोई व्यक्ति एक ही मकान में पत्नी के नाम पर दूसरा मीटर नहीं लगवा सकता और इस स्कीम का लाभ नहीं मिल सकता।

 

सवाल: क्या आयकर भरने वाले क्या इस स्कीम का लाभ ले सकते हैं?

जवाब: आयकर भरने वाले इस स्कीम के दायरे में नहीं आते। इसके साथ ही फोर व्हीलर के मालिक भी इस स्कीम में शामिल नहीं किए गए हैं।

Leave a Reply