Kanya Sumangala Yojana: बेटियों को 15 हजार रुपये देने का ऐलान, यहाँ आवेदन कर खाते में पाएं पैसे.

Kanya Sumangala Yojana: भारत का सामाजिक तानाबाना स्वयं में जटिल और संवेदी है। सामाजिक, धार्मिक, शैक्षिक और पारिवारिक परिस्थितियां महिलाओं और बालिकाओं के लिए अनादिकाल से भेदभाव पूर्ण रही है। समाज में प्रचलित कुरीतियां एवं भेद-भाव जैसेः कन्या भ्रूण हत्या, असमान लिंगानुपात, बाल विवाह एवं बालिकाओं के प्रति परिवार की नकारात्मक सोच जैसी प्रतिकूलताओं के कारण प्रायः बालिकायें/महिलायें अपने जीवन, संरक्षण, स्वास्थ एवं शिक्षा जैसे मौलिक अधिकारों से वंचित रह जाती हैं। इन सामाजिक कुरीतियों को दूर करने हेतु सरकारी और गैर-सरकारी स्तर पर निरन्तर प्रयास भी किये जा रहे हैं। इस परिवेश के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के रूप में नई पहल की जा रही है जो अत्यन्त आवश्यक है। राज्य सरकार द्वारा बालिकाओं एवं महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा के साथ-साथ विकास हेतु नये अवसर प्रदान करने के लिए यह योजना प्रारम्भ की जा रही है। इसके फलस्वरूप जहाँ एकतरफ कन्या भ्रूण हत्या एवं बाल-विवाह जैसी कुरीतियों के रोकथाम के प्रयासों को बल मिलेगा वहीं दूसरी ओर बालिकाओं को उच्च शिक्षा व रोजगार के अवसरों की ओर बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। महिला सशक्तिकरण वर्तमान उत्तर प्रदेश सरकार की प्रतिबद्धता है।

Kanya Sumangala Yojana: आपको ऐसी योजना के बारे में बता रहे हैं जो खासतौर से बेटियों को ध्यान में रखकर तैयार किया है. बेटियों के प्रति नाकारत्मक सोच के कारण वे हमेशा से स्वास्थ्य शिक्षा जैसी मौलिका अधिकारों से वंचित रह जाती हैं. इसे खत्म करने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ऐसी योजना लेकर आई है जिसके तहत बेटियों को राज्य सरकार की तरफ से 15,000 रुपये आर्थिक सहायता के तौर पर दिया जाता है.

प्रदेश की योगी सरकार उत्तर प्रदेश की लड़कियों के लिए कन्या सुमंगला योजना (Kanya Sumangala Yojana) लेकर आई है. इस योजना को तहत बेटियों को पूरे 15,000 रुपये राज्य सरकार के तरफ से दिए जाते हैं. योजना के लाभ केवल प्रदेश की बेटियां ही ले सकती हैं.

योगी सरकार की कन्या सुमंगला योजना (Kanya Sumangala Yojana)के तहत बेटियों को पूरे 15000 रुपये का फायदा मिलता है. इसमें कुल 15000 रुपये ट्रांसफर की राशि को 6 समान किस्तों में दिया जाता है.

Kanya Sumangala Yojana दो बेटियों ले सकती हैं योजना का लाभ :

कन्या सुमंगला योजना के तहत सरकार बेटियों को 15 हजार रुपये दे रही है. सरकार की तरफ से चलाई जाने वाली इस योजना का लाभ एक पर‍िवार की दो बेटियों ले सकती हैं. बेटी की बेहतर परवरिश और पढ़ाई के मद्देनजर सरकार यह पैसा छह क‍िस्‍तों में देती है. उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार बेटियों का ख्‍याल रखते हुए 15,000 रुपये की राश‍ि प्रदान करती है.

Kanya Sumangala Yojana मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 6 श्रेणियों में निम्नवत् लागू की जायेगी:

  1. प्रथम श्रेणी : नवजात बालिकाओं जिनका जन्म 01/04/2019 या उसके पश्चात् हुआ हो, को रू0 2000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जायेगा.
  2. द्वितीय श्रेणी : वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिनका एक वर्ष के भीतर सम्पूर्ण टीकाकरण हो चुका हो तथा उनका जन्म 01/04/2018 से पूर्व न हुआ हो, को रू0 1000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जायेगा.
  3. तृतीय श्रेणी : वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान प्रथम कक्षा में प्रवेश लिया हो , को रू0 2000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जायेगा.
  4. चतुर्थ श्रेणी : वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान छठी कक्षा में प्रवेश लिया हो , को रू0 2000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जायेगा.
  5. पंचम श्रेणी : वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान नवीं कक्षा में प्रवेश लिया हो , को रू0 3000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जायेगा.
  6. षष्टम् श्रेणी : वह सभी बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने 10वीं/12वीं कक्षा उत्तीर्ण करके चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान स्नातक-डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लिया हो , को रू0 5000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जायेगा.

Kanya Sumangala Yojana मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की पात्रता की अहर्ताएं :

1. लाभार्थी का परिवार उत्तर प्रदेश का निवासी हो तथा उसके पास स्थायी निवास प्रमाण पत्र हो, जिसमें राशन कार्ड/आधार कार्ड/वोटर पहचान पत्र/विद्युत/टेलीफोन का बिल मान्य होगा.

2. लाभार्थी की पारिवारिक वार्षिक आय अधिकतम रु0-3.00 लाख हो.

3. किसी परिवार की अधिकतम दो ही बच्चियों को योजना का लाभ मिल सकेगा.

4. परिवार में अधिकतम दो बच्चे हों.

5. किसी महिला को द्वितीय प्रसव से जुड़वा बच्चे होने पर तीसरी संतान के रूप में लड़की को भी लाभ अनुमन्य होगा. यदि किसी महिला को पहले प्रसव से बालिका है व द्वितीय प्रसव से दो जुड़वा बालिकायें ही होती हैं तो केवल ऐसी अवस्था में ही तीनों बालिकाओं को लाभ अनुमन्य होगा.

6. यदि किसी परिवार ने अनाथ बालिका को गोद लिया हो, तो परिवार की जैविक संतानों तथा विधिक रूप में गोद ली गयी संतानों को सम्मिलित करते हुये अधिकतम दो बालिकायें इस योजना की लाभार्थी होंगी.

Kanya Sumangala Yojana 14 लाख बेट‍ियों को फायदा द‍िया गया :

प‍िछले द‍िनों सीएम योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में जानकारी देते हुए बताया था क‍ि यूपी में बेट‍ियों के ल‍िए कन्या सुमंगला योजना को न‍िरंतर आगे बढ़ाया जा रहा है. उन्होंने बताया क‍ि अब तक सूबे में करीब 14 लाख बेट‍ियों को योजना का फायदा द‍िया गया है. योजना का फायदा ऐसे परिवारों को मिलता है, जिनकी सालाना आय 3 लाख रुपये से कम है. तीन लाख से कम की आया वाले अभिभावक बेटी के जन्‍म के बाद योजना के ल‍िए आवेदन कर सकते हैं.

Kanya Sumangala Yojana पहली किस्त में म‍िलेंगे 2,000 रुपये :

इस योजना में सबसे पहले आपको बेटी का पोस्ट ऑफिस में अकाउंट खुलवाना होता है. जन्‍म के बाद पहली किस्त 2,000 रुपये की म‍िलती है. दूसरी किस्त के रूप में 1,000 रुपये टीकाकरण के बाद मिलते हैं. 2000 रुपये की तीसरी किस्त बि‍ट‍ियां के पहली कक्षा में प्रवेश करने पर मिलती है.

Kanya Sumangala Yojana ग्रेजुएशन में एडम‍िशन पर 5000 रुपये :

इसके बाद ब‍िट‍ियां के छठी कक्षा में एडम‍िशन लेने पर चौथी किस्त के 2,000 रुपये म‍िलते हैं. वहीं, 9वीं कक्षा में दाख‍िला लेने पर पांचवीं किस्त के 3,000 रुपये म‍िलते हैं. इस तरह यहां तक कुल 10 हजार रुपये हो गए. इसके बाद बाकी बचे 5000 रुपये 10वीं-12वीं पास करने के बाद ग्रेजुएशन या डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश के ल‍िए म‍िलते हैं.

Kanya Sumangala Yojana ऐसे कराना होगा योजना का रजिस्ट्रेशन :

  • सबसे पहले https://mksy.up.gov.in/women_welfare/index.php पर विजिट करें.
  • यहां लॉगइन करके टर्म एंड कंडीशन के नीचे द‍िए गए आई एग्री बॉक्स पर टिक करके कंटीन्यू पर क्लिक करें.
  • यहां नया वेबपेज खुला जाएगा, इसके बाद मांगी गई जानकारी को सावधानी पूर्वक भर दें.
  • डिटेल्स फ‍िल करने के बाद कैप्चा कोड डालें और ओटीपी के लिए क्लिक करें.
  • अब मोबाइल पर आए ओटीपी को दर्ज करें. इसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा.